छात्रा ने की आत्महत्या, फांसी पर लटका मिला शव

थाना क्षेत्र में रेजोनेंस कोचिंग संस्थान में कोचिंग कर रही छात्रा का शव घर पर ही संदिग्ध हालत में फांसी के फंदे पर लटका मिला, जिसके हाथ की नस कटी होने से हाथ खून से सना हुआ था। पुलिस ने छात्रा के शव को एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया जहां शुक्रवार को छात्रा के शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंपा गया। जानकारी के अनुसार आरकेपुरम क्षेत्र के मकान नंबर 584 में रहने वाली छात्रा कशिश सैनी (18) पुत्री सुरेश सैनी कक्षा 12वीं की छात्रा थी जो रेजोनेंस कोचिंग संस्थान से क्लैट की तैयारी कर रही थी। करीबन 15 दिन पहले ही छात्रा ने रिजोनेंस कोचिंग जाना बंद किया था। गुरुवार देर शाम को छात्रा का शव उसके कमरे में फांसी से लटका हुआ मिला जिसके हाथ की नस कांच से कटी हुई थी और गले पर भी कट का निशान था। परिजनों को घटना की जानकारी लगते ही उन्होंने आरकेपुरम थाना पुलिस को सूचना दी। छात्रा की मौत की सूचना पर प्रशिक्षु आईपीएस अमृता दुहन, पुलिस उपाधीक्षक राजेश मील व आरकेपुरम थानाधिकारी ओम प्रकाश बैरवा मोके पर पहुचे। उन्होंने घटना स्थल की जांच करते हुए छात्रा के शव को फांसी के फंदे से उतार कर उसे एमबीएस अस्पताल की मोर्चरी में शिफ्ट करवाया। जहां सुबह छात्रा के शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिया गया। घटना के समय घर पर कोई मौजूद नही था। पिता देर शाम को जब वो घर पहुचे तो कशिश ने अंदर से दरवाजा लगाया हुआ था। रात को उसे खाना खाने के लिए बुलाने गए तब भी उसे आवाज देने पर कोई जवाब नही आया। जिसके बाद दरवाजे को तोड़ कर देखा गया तो कशिश का शव फांसी के फंदे पर लटका हुआ था। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी कशिश पड़ने में कमजोर थी लेकिन उन्होंने कभी ऐसा नही सोचा था। वही प्रशिक्षु आईपीएस अमृता दुहन ने बताया कि छात्रा की मौत का पता चलते ही पुलिस ने छात्र के कमरे को सील कर दिया है। मूर्तक छात्रा के कमरे से किसी प्रकार का सुसाइड नोट नही मिलने से छात्रा के मौत के कारणों का पता नही चल पाया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

X

सर्कल कोटा
अपने शहर का अपना ऐप

दिगोद, पिपल्दा, रामगंज मण्‍ड़ी, सांगोद... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

कोटा में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें