राजकुमार को अब न्याय की उम्मीद 9 माह से 2 बच्चों संग फरार है पत्नी

This browser does not support the video element.

चंदौली। 9 माह पहले दो बच्चों के साथ मुगकसराय कोतवाली क्षेत्र के पटेलनगर स्थित साढू के घर से गायब हुई पत्नि के लिए भटक रहा राजकुमार पीडीडीयू नगर स्थित मुगलसराय कोतवाली का चक्कर लगाते लगाते थक चुकने के बाद मानवाधिकार आयोग सहित तमाम जगहों पर न्याय पाने के लिए गुहार लगाने के बाद अब निराश हो चुका था। इसी बीच मानवाधिकार आयोग का पत्र सीओ सदर त्रिपुरारी पांडेय को मिलने के बाद उन्होंने सोमवार को राजकुमार को कार्यालय बुलाकर पूरी बाते सुनने के बाद मुगलसराय कोतवाली में मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है। इसके बाद अब राजकुमार को न्याय की उम्मीद जग जग गयी है।    बताते चलें कि झारखंड प्रान्त के बोकारो निवासी राजकुमार का ससुराल चंदौली जनपद के अलीनगर में है तथा साढू का घर मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के पटेलनगर मुहल्ले में है। राजकुमार की पत्नि विगत वर्ष साढू के यहां गयी थी जहां से 16 मई को अपने साथ एक पुत्र और एक पुत्री को साथ लेकर किसी के साथ कहीं भाग गयी। काफी प्रयास के बाद भी नही मिली तो राजकुमार ने जीआरपी मुगलसराय में इसकी सूचना दी। लेकिन जीआरपी ने गुमशुदगी की सूचना दर्ज कर ली और उसे ठंढे बस्ते में डाल दिया। उधर राजकुमार भी अपने स्तर से जानकारी करता रहा। जब उसे ये पता चला की उसकी पत्नी को भगाने में उसके साढू बीके लड़के का हाथ है जिसने पटेलनगर से दो लोगों के साथ उसे भगाया है। तो राजकुमार ने कोतवाली मुग़लसराय में इसकी लिखित सूचना दी लेकिन किसी प्रकार की कार्यवाही नही हुई सिर्फ यह कहकर उसे दौड़ाया गया कि गुमशुदगी की सूचना जीआरपी में दर्ज है तो वही कार्यवाही करेगा। ऐसे में परेशान भुक्तभोगी ने मानवाधिकार सहित कई जगहों पर आवेदन दिया परन्तु कोई कार्यवाही नहीं हुई थी जिससे वह निराश था। अब सीओ सदर के पहल के बाद उसे कुछ उम्मीद जगी है।

X

सर्कल चंदौली
अपने शहर का अपना ऐप

चंदौली, चकिया, नौगढ़, सकलडीहा, सदर… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

चंदौली में 3000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें