ऐसा भी विद्यालय वर्षो से नही है शिक्षक फिर भी 67 बच्चे आते है पढ़ने कैसे पढ़ते है बच्चे?

This browser does not support the video element.

ब्रेकिंग न्यूज़:- श्रावस्ती विद्यालय में एक वर्ष से नही है कोई भी शिक्षक फिर भी स्कूल में बच्चे आते है पढ़ने बगल के प्राथमिक स्कूल के शिक्षक किसी तरह बच्चो को रखते रोककर। विद्यालय में कक्षा 6,7,8 में कुल 67 बच्चो का है एडमीशन अधर में बच्चो का भविष्य कैसे पढ़े बच्चे जब स्कूल में नही शिक्षक। प्रथमिक विद्यालय के शिक्षक मो0 शरीफ दोनों स्कूल के बच्चो को है पढ़ाते होती है काफी दिक्कतें फिर भी निभाते है बड़ी जिम्मेदारी। विद्यालय की फर्श भी टूटी फूटी बच्चो को बैठने के लिये नही है डेस्क बच्चे बैठते है टाट पट्टी पर रसोईघर की दीवाल से गिर रहा घटिया सीमेन्ट छत भी है टपकती। स्थानीय ग्रामीणों का कहना कैसे संवरेगा उनके बच्चो का भविष्य जब शिक्षा विभाग ही कर रहा खिलवाड़ आखिर कियू नही विद्यालय में शिक्षक। प्रथमिक विद्यालय के शिक्षक ने विभागीय अधिकारियों से उच्च प्रथमिक विद्यालय में शिक्षको के तैनाती के लिये की है माँग। ब्लॉक जमुनहा के उच्च प्रथमिक विद्यालय देवरा का है पूरा मामला।

X

सर्कल श्रावस्ती
अपने शहर का अपना ऐप

श्रावस्ती, इकौना, जमुनहा, भिनगा… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

श्रावस्ती में 2000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें