आजादी के 73 साल बीत जाने के बाद भी इस गाँव मे नही है सड़क

This browser does not support the video element.

अमेठी:शाहगढ़ ब्लाक के जलामा ग्राम सभा में प्रधानी के चुनाव के समय गांव में वोट मांगने आते लेकिन चुनाव जितने के बाद गांव में ग्राम प्रधान द्वारा ग्राम सभा की अनदेखी की जाती आपको बता दें कि शाहगढ़ ब्लॉक के ग्रामसभा जलामा प्रमुख गांव में ही जाने को सड़क नही है।आजादी के 73 साल के बाद भी ग्रामीणों को आने जाने में होती है काफी दिक्कत। बरसात के दिनों में जो बच्चे स्कूल जाते हैं वह गिर कर चोटिल होते हैं यही नहीं यहां से मरीजों को अस्पताल ले जाने जाने के लिए लगभग डेढ़ किलोमीटर साइकिल मोटरसाइकिल से लेकर मुख्य सड़क तक आना पड़ता है। जबकि इस ग्राम सभा के लोग मुख्यमंत्री से लेकर अधिकारी तक को पत्र लिखें है यही नहीं अधिकारियों के कार्यालयों का चक्कर लगा लगा के थक चुके है । लेकिन आजादी के 73 साल बाद भी इनको रास्ता नहीं मिल सका 40 परिवार इस गांव में निवास करते हैं जिनकी आबादी 500 से भी अधिक अखिलेश ग्राम सभा की उपेक्षा क्यों करते इसका तो बयान को सुनते ही आप अंदाजा लगा लेंगे।

X

सर्कल अमेठी
अपने शहर का अपना ऐप

अमेठी, गौरीगंज, तिलोई, मुसाफिरखाना… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

अमेठी में 8000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें