नही सुधरी मतदान केंद्रों की अव्यवस्थाये,निरीक्षण में खुली पोल

स्थानीय लोकसभा क्षेत्र में आगामी 18 अप्रैल को मतदान होना है मगर क्षेत्र के अनेक मतदान केंद्रों की आवश्यक एवम मूलभूत सुविधाएं अभी तक सही नहीं हुई है। सोमवार को जिला प्रशासन के निर्देश पर न्याय पंचायत समन्वयक द्वारा किये गए निरीक्षण के दौरान अनेक मतदान केंद्रों पर शौचालय, रास्ता,बिजली,पानी जैसी मूलभूत सुविधाओं का अभाव दिखा।परिणामस्वरूप मतदान केंद्रों को सुविधाओ से पूर्ण बनाये जाने को लेकर की गई कोशिशें नाकाम साबित हुई है। 106 जलेसर विधानसभा क्षेत्र के शुरुआती पोलिंग बूथों पर मिली अव्यवस्थाओ ने प्रशासन के प्रयासों की कलई खोल दी है। सोमवार को क्षेत्र की न्याय पंचायत दलशाहपुर के समन्वयक के पी गौतम द्वारा पोलिंग बूथों का निरीक्षण किया गया जिसमें मतदेय स्थल संख्या एक प्राथमिक विद्यालय जमालपुर गादुरी मे शौचलयों में दरवाजे व किवाड़े नही थी। मतदेय स्थल संख्या तीन जनता जूनियर हाईस्कूल मितरौल मे विद्युत कनेक्शन नही था। मतदान कक्ष में पंखा व वल्ब नही थे। कमोबेश यही हाल मतदेय स्थल संख्या चार प्राथमिक विद्यालय जौहरपुर में मिला।मतदेय स्थल संख्या छह प्राथमिक विद्यालय दूल्हा में भी न तो विद्युत कनेक्शन था और न ही विजली फिटिंग थी। मतदेय स्थल संख्या सात की स्थिति अत्यधिक खराब मिली। बूथ तक जाने वाला रास्ता काफी जर्जर था जरा सी बरसात होने पर रास्ते मे पानी भर जाता है। जिससे इस रास्ते से निकलना दूभर हो जाता है।स्कूल में विद्युतीकरण न होने से विद्युत फिटिंग नही मिली। हेडमास्टर गौरव सिंह ने बताया कि रास्ता सही कराने की बाबत कई बार ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव व बीडीओ अवागढ़ से कहा गया मगर किसी ने भी रास्ता सही कराने की जहमत नही उठाई है। मतदेय स्थल संख्या आठ पूर्व माध्यमिक विद्यालय हादीददपुर में भी कमरों में वल्व व पंखे नही मिले।मतदेय स्थल संख्या ग्यारह प्राथमिक विद्यालय पवहा तथा मतदेय स्थल संख्या बारह रसीदपुर मितरौल में भी विद्युत कनेक्शन व विद्युतीकरण हुआ नही मिला। इसके साथ साथ क्षेत्र के सांसद आदर्श गांव पिलखतरा, गनेशपुर, सकरा, लखमीपुर,दूल्हा,रसीदपुर मितरौल,बलेसरा आदि गॉंव में भी स्थित मतदान केंद्रों में भी मूलभूत सुविधाओं का अभाव होने की खबर है। विदित हो कि हिंदुस्तान समाचार पत्र द्वारा करीब एक माह पूर्व ही क्षेत्र के मतदेय स्थलों पर व्याप्त असुविधाओ को लेकर समाचार प्रकाशित किया गया था। इसके बाद भी सम्बन्धित अधिकारियों ने इस ओर कोई ध्यान नही दिया गया। वही निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी/एस डी एम जलेसर अरुण कुमार का कहना है कि पोलिंग बूथों सभी सुविधाओं को उपलब्ध कराने के लिए बीडीओ अवागढ़ को आदेश दिया गया था। फिर भी असुविधाऐ रह गई है तो उन्हें दो दिन में पूरा कराया जाएगा।

X

सर्कल एटा
अपने शहर का अपना ऐप

एटा, अलीगंज, जलेसर… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

एटा में 19000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें