संरक्षण के बाद भी गायों की भयावह स्थिति

This browser does not support the video element.

प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ एक ओर जहां गायों के संरक्षण की बात करते हैं. वहीं कस्बा चौमुहाँ की श्री राधा मोहन जी अनाथ गौशाला में इस समय स्थिति बहुत ही दयनीय बनी हुई है. कभी-कभी इस गौशाला में गायों को चारा भी नसीब नहीं होता. वहीं आए दिन सड़क दुर्घटना में गायों की मौत हो रही है. गौशाला की बाउंड्री न हो पाने के कारण गाय खुले में घूमती रहती है, जिसके चलते आए दिन गाय रोड पर आकर वाहनों की चपेट में आ जाती हैं. बुधवार की सुबह भी एक गाय ट्रक की चपेट में आकर गंभीर रूप से घायल हो गई. अब तक गौशाला की दर्जनभर गायें मार चुकी हैं. वहीं व्यवस्थाओं की बात की जाए तो गौशाला में गायों के लिए कोई भी उचित व्यवस्था नहीं है. यहां छोटी बड़ी गाय एक ही जगह चारा खाती है. तो ऐसे में जो बड़ी गाय होती हैं वो छोटे बछड़ों को मारती हैं. यही स्थति एक साल पहले भी गौशाला पर देखने को मिली थी. बाद में स्थिति में सुधार कर लिया गया था. वहीं पूर्व में जब हमारी टीम ने कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण से बात की थी तो उन्होंने गौशाला पर हर सम्भव मदद दिलाने का आश्वाशन दिया था. लेकिन एक साल बीत जाने के बाद भी गौशाला की स्थिति में सुधार तो दूर मंत्री जी ने गौशाला पर झांक कर भी नहीं देखा. बता दें चौमुहाँ ब्लॉक के दर्जनों गांव में ऐसे ही अनाथ गौशालाएं संचालित हैं. अब सवाल यह पैदा होता है कि जब हाईवे स्थित राधामोहन जी गौशाला की ही यह स्थिति बनी हुई है तो बाकि गौशालाओं की क्या दुर्दशा होती होगी. इन्हीं सभी समस्याओं के समाधान के लिए राधामोहन जी अनाथ गौशाला के सेवायत योगी जी महाराज अनशन पर बैठे हुए हैं. योगी महाराज ने बताया, 'जब तक मेरी मांगे पूरी नहीं होती तब तक मैं ऐसे ही अनशन पर बैठा रहूंगा.' उनकी मांग है कि गौशाला की बाउंड्री कराई जाए. छोटे बछड़ों व बड़ी गायों को अलग-अलग जगह पर रखा जाए. चारे की उचित व्यवस्था की जाए. गायों में फैल रहे रोगों का इलाज कराया जाए. साथ ही उन्होंने बताया कि गायों में मुंहपका-खुरपका जैसी बीमारी फैल रही है, जिसका समय पर इलाज नहीं मिल पा रहा है. कई बार डॉक्टरों की टीम को सूचित किया गया, लेकिन कोई भी इलाज करने के लिए नहीं आता है, जिससे कि 7 दिन में एक-दो गाय की बीमारी के चलते मौत हो जाती है. वहीं जब इस बारे में पशु चिकित्सक संजय मिश्रा से बात की गई तो उन्होंने बताया कि 2 दिन पहले गायों को इलाज दिया गया है तथा कल फिर उन्हें इंजेक्शन लगाए जाएंगे.

X

सर्कल: लोकल न्यूज़ और वीडियो
अपने शहर का अपना ऐप

സർക്കിൾ: പ്രാദേശിക വാർത്തകളും വീഡിയോകളും

Circle: Local News & Videos

Install
App