पुलिस और गोताखोरों की सतर्कता आई काम, साधु की बची जान

This browser does not support the video element.

थाना कोतवाली की रंगजी चौकी पुलिस व स्थानीय गोताखोरों की सतर्कता ने एक 70 वृद्ध की जान बचाई. मामला नगर के केशीघाट क्षेत्र का है. जानकारी के मुताबिक नगर के दामोदर मंदिर के समीप स्थित भिक्षावृत्ति कर अपना जीवन यापन करने वाले 70 वर्षीय साधु सुधीर गुरुवार सुबह तकरीबन आठ बजे प्रतिदिन की तरह नगर की पंचकोशीय परिक्रमा कर रहे थे. तभी अचानक यंमुना के घाट की सीढ़ियों पर पांव फिसल गया. वह यमुना के बढ़ते जलस्तर की तेज लहरों में बहने लगे. इस बीच घाट पर मौजूद स्थानीय गोताखोरों ने तुरंत यमुना में छलांग लगाकर उन्हें बाहर निकाला. साधु को अस्पताल में भर्ती कराया गया. इस दौरान गोताखोरों की टीम में गुलाब निषाद, राधे निषाद, चिरंजी निषाद, रामप्रवेश निषाद, श्रीकृष्ण निषाद, आदि मौजूद रहे. गोताखोर गुलाब ने बताया कि कई वर्षों से वह अपनी जान जोखिम में डालकर डूबनेवालों को बचा रहे हैं. लेकिन अभी तक प्रशासन द्वारा उनको किसी प्रकार की सुविधा मुहैया नहीं कराई गई है. ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा द्वारा भी गोताखोरों के लिए प्रशासन से सुविधा मुहैया कराने की बात की जा चुकी है.

X

सर्कल मथुरा
अपने शहर का अपना ऐप

मथुरा, वृंदावन, छाता, महावन, मांट... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

मथुरा में 63000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें