इस गाॅव में रहते है सैंकडो वसुदेव रूपी किसान देखें सर्कल ऐप पर

This browser does not support the video element.

बाह- कालिन्द्री के विकराल के रूप में वसुदेव ने भगवान कृष्ण को यमुना से पार कराया था। बाह के विक्रमपुर गाॅव में सैंकडो वसुदेव द्वारा कृष्ण रूपी खेती को देखने के लिये प्रतिदिन चीरते है यमुना की धार। विकराल रूप में यमुना की धार चीरना ग्रामीणों की बन गया है मजबूरी। यमुना के दूसरी ओर खेत खलिहान होने के चलते प्रतिदिन जाना पडता है नदी के उस पार। यमुना के रौद्र रूप में भी नदी की धार चीर रहे वासुदेव रूपी किसान।

  • Related Post
X

सर्कल आगरा
अपने शहर का अपना ऐप

फतेहाबाद, किरावली, खेरागढ़, एत्मादपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

आगरा में 69000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें