काल के गाल में पढ़ने को मजबूर नौनिहाल, शिकायतों के बाद भी नहीं हुआ स्थिति में सुधार

This browser does not support the video element.

जनपद मथुरा के गांव हुसैनी कोसी शेरगढ रोड पर स्थित प्राइमरी विद्यालय द्वितीय में नौनिहाल अपनी जान की बाजी लगाकर पढ़ने को मजबूर हैं. विद्यालय की छत का प्लास्टर ऐसा है कि कोई भरोसा नहीं कब बच्चों के सिर पर गिर जाए. विद्यालय की पुरानी इमारत भी जर्जर स्थिति में है. विद्यालय में पानी की भी व्यवस्था नहीं है. ऐसे में नौनिहालों को पानी पीने अपने घर तक दौड़ना होता है. विद्यालय के प्रिंसिपल हरिबाबू रावत के मुताबिक खण्ड शिकाधिकारी, बेसिक शिक्षाधिकारी व एसडीएम साहब को तीन बार शिकायत पत्र दिए जा चुके हैं. लेकिन 5 साल से इस समस्या का अभी तक कोई भी निष्कर्ष नहीं निकला है.

X

सर्कल मथुरा
अपने शहर का अपना ऐप

मथुरा, वृंदावन, छाता, महावन, मांट... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

मथुरा में 63000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें