महिला की मौत के बाद एसडीएम फतेहाबाद और वन विभाग की टीम ने गांव का किया दौरा

This browser does not support the video element.

शमसाबाद। सोंच को जा रही महिला का पैर अचानक तालाब में फिसल गया। तालाब में मौजूद कछुआ ने महिला को अपना शिकार बना लिया।कछुओं के शिकार से महिला की मौत हो गई। कछुओं के प्रकोप से हुई महिला की मौत के बाद एसडीएम फतेहाबाद ने गांव का दौरा किया। और कछुओं को शिफ्ट करने की बात कही है। मामला थाना शमशाबाद क्षेत्र के बास बले गांव का है। जनपद आगरा के थाना शमशाबाद क्षेत्र के गांव बले का बास में विगत रात्रि करीब 9:00 बजे शौच को जा रही 50 वर्षीय महिला का पैर तालाब में फिसल गया। महिला का पैर तालाब में फिसला तो तालाब में मौजूद कछुओं ने महिला को अपने आगोश में ले लिया। कछुओं का निवाला बनी महिला की मौके पर ही मौत हो गई। महिला की मौत के बाद परिवार में कोहराम मचा हुआ है। ग्रामीणों के अनुसार गांव के तालाब में पिछले कई वर्षों से कछुओं का आतंक मचा हुआ है। जिस कारण ग्रामीणों में दहशत का माहौल व्याप्त है। तो वहीं बारिश के मौसम में तालाब की सफाई ना होने की वजह से तालाब का पानी गांव में आ जाता है। और गांव ताल तलैया बन जाता है। कछुओं के तांडव से हुई महिला की मौत के बाद एसडीएम फतेहाबाद ने गांव का दौरा किया। एसडीएम फतेहाबाद ने वन विभाग के अधिकारियों को तत्काल गांव के तालाब से कछुआ को दूसरी जगह शिफ्ट करने की बात कही है। और मृतक महिला के परिवारी जनों को उचित मुआवजा देने का आश्वासन भी एसडीएम द्वारा दिया गया है। कछुओं के हमले से हुई महिला की मौत के बाद गांव में भय का माहौल व्याप्त है। कोई भी ग्रामीण तालाब के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहा। ऐसे में बड़ा सवाल उठता है कि बारिश से पहले ग्राम पंचायतों में तालाबों की सफाई के नाम पर केवल खानापूर्ति की गई है। तालाब की सफाई कराई जाती तो महिला की जान बच सकती थी।

  • Related Post
X

सर्कल आगरा
अपने शहर का अपना ऐप

फतेहाबाद, किरावली, खेरागढ़, एत्मादपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

आगरा में 69000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें