हनुमान की ताकत से मजदूर बने बीजेपी विधायक: बड़ी खबर

This browser does not support the video element.

यूपी के बलिया में गंगा का जल स्तर नीचे आने के बाद अब कटान शरू हो गया है नदी किनारे  बसे गांवो को बचाने के लिए बने रिंग बंधे में कटान शरू हो गया है कटान की सूचना पर पहुचे बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने मजदूरों की कमी की वजह से खुद ही मजदूर बन गए और बोरी उठाकर खुद नदी में डालने लगे ।विधायक के मजदूर बन जाने के बाद अधिकारी भी कहाँ पीछे रहते और बाढ़ विभाग के अधिशासी अभियंता भी मजदूर बन विधायक के साथ बोरी उठाकर कटान रोकने का प्रयास करने लगे । गंगा नदी में आई बाढ़ के बाद नदी का जल स्तर नीचे आने से रिंग बंधे में हो रहे कटान के कारण बैरिया तहसील क्षेत्र के गंगापुर और उदईपुर गांव के लोगो की धड़कने बढ़नी शुरू हो गई । कटान की जानकारी जब क्षेत्र के बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह को हुई तो वो खुद कटान स्थल पर पहुंच गए और ईट और बालू से भरी बोरी उठाकर रिंग बंधे को बचाने में लग गए । उनके इस तरह से काम करते देख जहां गांव के लोग भी कटान से बचाव के काम मे लग गए तो अधिकारी भी बोरी उठाकर मजदूरों की तरह बचाव कार्य करने में लगे। हालांकि बीजेपी विधायक का कहना है की सामाजिक कार्यकर्ता का धर्म होता है कि वो केवल अपनी वाणी से काम न ले भगवान ने हमारे शरीर मे क्षमता दिया है तो हमने ये काम किया। जनता की रक्षा के लिए बोरा उठाना हमारे लिए कोई बड़ी बात नही है। बलिया जनपद के बैरिया तहसील क्षेत्र के गंगापुर और उदई छपरा गांव को गंगा नदी के किनारे सुरक्षा कवच बने रिंग बंधे को कटने से बचाने के लिए ग्रामीणों के साथ ईट भरी बोरी अपने हांथों में उठाकर कटान हो रहे स्थान पर ले जाते ये बीजेपी के क्षेत्रीय विधायक सुरेन्द्र सिंह है। रिंग बंधे को काट रही गंगा की तेज धाराओं को सूचना पर पहुँचे विधायक ने वहां हो रहे बचाव कार्य मे मजदूरों की कमी की वजह से बचाव कार्य की धीमी गति देख कर अपने आप को रोक नही पाए और खुद ही ग्रामीणों के साथ ईट भरी बोरियों को उठा उठा कर कटान रोकने के प्रयाश में जुट गए वही बाढ़ विभाग के अधिशासी अभियंता भी विधायक को बोरी उठाकर डालता देख स्वयं बोरी डालकर कटान रोकने में जुट गए। हालांकि की विधायक के इस प्रयास से रिंग बंधा कटने से बच गया।विधायक सुरेन्द्र सिंह की माने तो बाढ़ की स्थिति भयावह तो हो गई थी लेकिन अब नियंत्रण में है और हमारे कर्मचारी,अधिकारी हम सबलोग के प्रयास समाज के प्रयास से भी कोशिस कर रहे है दो जगह संकट आ गया था। उदई छपरा में भी रिंग बांध कट रहा था और यहां गंगापुर में भी। सामाजिक कार्यकर्ता का धर्म होता है कि अपने समाज से काम लेने से पहले केवल वाणी से आदमी को आदर्श प्रस्तुत नहीं करना चाहिए भगवान ने इस शरीर में क्षमता दिया है तो स्वयं मैं उस काम को किया मेरी दृष्टि में मेरी जनता और मेरे में कोई खास अंतर नहीं है बस मौलिक अंतर यह है कि उन लोगों ने मुझे विधायक बना दिया है लेकिन उन्ही का तो भाई हूं उनके घर का हूं उन्हीं का शिक्षक हूं इसलिए क्या है जनता के रक्षा करने के लिए बोरा उठाना और क्या हो गया हमारे लिए कोई बड़ी बात नहीं है। बुरा उठाने का कारण यह था कि मजदूर कम थे हमको जल्दी ठीक किए धार चल रही है बंबूकैरेट डाल देंगे तो उतना ही हमारे जनता के लिए उपयोगी होगा। देखिए अधिकारी हमारे लिए जो है यह तो काम उनका नहीं है लेकिन जो काम इनका होना चाहिए उस काम में जरूर यह दुर्बल रहे इसलिए हमको लगना पड़ा चाहे इनको लगना पड़ा। मैं तो केवल संदेश के लिए उठाया बाकी हमारे सम्मानित अधिकारी है भाई हम उनका आदर करते हैं माली जी ठीक है हमारा कोई व्यक्तिगत वह तो है नहीं लेकिन यह संदेश देने के लिए कि कितना कठिन काम है इस समाज की रक्षा करना और दायित्व पर रहने वाले व्यक्ति का धर्म होता है कि काम कैसे गति के साथ कराया जाए यह हमारी जिम्मेवारी है जिम्मेवारी हमारी नहीं है उससे अधिक जिम्मेवारी उनकी है लेकिन उनकी जिम्मेदारी मैं सहयोग करने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता होने के नाते खड़ा हूं आप हमारा सहयोग लेकर के काम को संपन्न कर ले यह अच्छी बात है। बीजेपी विधायक से बिना काम किए ठेकेदारों द्वारा  भुगतान के सवाल पर बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने आपत्तिजनक बयान देते हुए  कह दिया  की मेरे क्षेत्र में तो ठेकेदार काम करते हैं उसके बाद ही भुगतान पाते हैं इतना तो मैं जानता ही हूं मैं लूटने नहीं देता हूं सिर्फ खाने देता हूं।

X

सर्कल बलिया
अपने शहर का अपना ऐप

बेल्थरा रोड, बॉसडीह, बैरिया, सिकंदरपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बलिया में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें