हिरासत में लिए युवक को 48 घंटे बाद भी कोर्ट में पेश नही किया

This browser does not support the video element.

थाना पुलिस नारायणपुर की दबंगई का मामला सामने आया है | पुलिस ने गत 48 घंटे से एक युवक को अवैध रूप से हिरासत में रखकर सरेआम पुलिस द्वारा मानव अधिकार का हनन किया जा रहा है | एसपी को मेल से भेजी गई प्रतिलिपि के अनुसार प्रार्थी कृष्णा देवी कस्बा निवासी बडवाली की ढाणी ने बताया कि पुलिस द्वारा 23 अगस्त को मेरे पति रमेश सैनी को सुबह करीब साढ़े 9 बजे हंस इंजिनियरिंग वर्क्स जयपुर रोड बाईपास से पकड़ कर अवैध रूप से हिरासत में ले रखा है | तथा पुलिस द्वारा 48 घंटे के बाद भी न्यायालय में पेश नही किया गया | जिसको लेकर महिला कृष्णा ने मुख्यमंत्री, डीजीपी, अलवर पुलिस अधीक्षक को मेल कर मानव अधिकार हनन को लेकर थानाधिकारी के खिलाफ क़ानूनी कार्रवाई करने की मांग की | महिला ने बताया कि भागीरथ सैनी ने किसी प्रोपर्टी डीलर को कोई जमींन बेचने का एग्रीमेंट किया था | प्रोपर्टी डीलर ने भागीरथ सैनी पर धोखाधड़ी का केश दर्ज कर रखा है | उसी एग्रीमेंट में महिला कृष्णा देवी का पति रमेश सैनी व दामोदर शर्मा गवाह है | मगर थानाधिकारी ने मेरे पति को अवैध रूप से हिरासत में ले रखा है | पीड़ित महिला ने बताया कि गवाह होने से मेरे पति का कोई जुर्म बनता है तो उसे विधिक रूप से हिरासत में लेकर न्यायालय में पेश करना चाहिए था | और दुसरे गवाह दामोदर शर्मा को भी हिरासत में लेना चाहिए था | थानाधिकारी द्वारा प्रोपर्टी डीलर को रूपये दिलाने व लिखित करार करने का अनुचित दबाव बनाया जा रहा है | जिसको लेकर महिला ने सरकार व प्रशासनिक अधिकारियो से न्याय की गुहार लगाई है | वही नारायणपुर थानाधिकारी ने इस मामले में मिडिया के कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से मना कर दिया |

X

सर्कल अलवर
अपने शहर का अपना ऐप

बहरोड़, राजगढ़, तिजारा, बानसूर, कठूमर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

अलवर में 20000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें