6 दिन पूर्व खारी खो नदी के पानी में बहे कारी का शव नंद गांव खो नदी के किनारे पड़ा मिला

This browser does not support the video element.

गत 12 अगस्त को थाना नगीना देहात क्षेत्र के ग्राम रजपुरा निवासी रियासत अली का 32 वर्षीय पुत्र कारी शादाब थाना शेरकोट के छीपरी शहजाद पुर गांव के मदरसे में बच्चों को पढ़ाने की नौकरी करता था। ईदुल अजहा के त्यौहार की 4 दिन की छुट्टी मिलने के कारण फज्र की नमाज पढ़ा कर कारी शादाब अपनी बाइक से घर के लिये चला था। थाना बढ़ापुर क्षेत्र के नगीना हरेवली रोड स्थित खारी खो नदी के रपटे पर पानी होते हुए।कारी अपनी बाइक को लेकर निकल रहा था। तभी खो नदी के तेज बहाव पानी में बाइक समेत बह गया। बाइक,बैग,खो नदी किनारे पर ही रूक गये। कारी पानी के बहाव के साथ आगे बहे गया। 5 दिन तक लगातार कारी के परिजन व गांव के लोग चप्पे चप्पे पर तलाश करके देर रात्रि थक कर बैठ गये थे। आज छठे दिन थाना शेरकोट क्षेत्र के ग्राम नंद गांव के लोगों ने कारी के शव को खो नदी के किनारे ईख के खेत के पास पड़े होने की खबर दी तो खबर सुनते ही कारी के परिजन व गांव के लोग व भारतीय किसान यूनियन के तहसील अध्यक्ष चौ०वीर सिंह डबास घटना स्थल की ओर दौड़ पड़े।शव मिलने की सूचना मिलते ही थाना शेरकोट व बढ़ापुर के प्रभारी घटनास्थल पर पुलिस टीम के साथ पहुंचे। शेरकोट पुलिस ने कारी के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिये बिजनौर भेजा। शव में बदबू बहुत आ रही थी। शव की सूचना मिलते ही कारी के परिवार में कोहराम मच गया। कारी शादाब 7 भाई थे। कारी के परिवार में एक लड़की अलीबा( 3 वर्ष,)लड़का अरकम (11 माह) व पत्नी रिहाना है। कारी अपने पीछे पूरे भरे परिवार को रोता बिलखता छोड़ गया।

X

सर्कल बिजनौर
अपने शहर का अपना ऐप

चाँदपुर, धामपुर, नगीना, नजीबाबाद, नहटौर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बिजनौर में 14000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें