सुरक्षा मानकों को ताख पर रख रविवार को भी खुला बैंक

This browser does not support the video element.

दुद्धी। स्थानीय तहसील क्षेत्र के अमवार में रविवार को इलाहाबाद बैंक शाखा अमवार ढाई बजे दोपहर से देर रात तक खुला पाया गया। बैंक में ना तो सुरक्षा के दृष्टि से पुलिस के कर्मी थे और ना ही बैंक का कोई गॉर्ड। बैंक में भोले भाले दूरदराज के आदिवासी अशिक्षित ग्रामीण की भीड़ उमड़ी दिखी। कुछ तो बैंक के सामने कटरे के बरामदे में बैठकर कागजों पर दस्खत कर रहे थे। सूत्रों की माने तो यह काम एक कथित बैंक दलाल द्वारा कराया जा रहा था। बैंक में प्रवेश कर बैंक मैनेजर से पूछताछ की गई तो शाखा प्रबंधक संजीव कुमार ने बताया कि पुराने केसीसी के डिफाल्टर है इनका नया -पुराना लोन किया जा रहा है। नया करने के लिए किसी मे आधार फीड नही है। रविवार को इस दिन को यूज कर रहे है हेड ऑफिस से परमिशन लिया है। सुरक्षा के बावत पुलिस कर्मियों के मौजूदगी के बारे में सवाल करने पर बताया कि इसकी प्रभारी निरीक्षक को दी गयी है। जल्द ही आएंगे। आरंगपनी से आये सोमारू ने बताया कि लोन का ऋणमाफी का कागज लेने आये है। डीलर मानसिंग ने बुलाया है। बता दे कि इलाहाबाद बैंक शाखा अमवार में आज जो भी ग्रामीण पाये गए वे म्योरपुर ब्लॉक के थे जबकि म्योरपुर ब्लॉक में खुद ही दर्जनो बैंक मौजूद है। फिर भी इनकी लोन दुद्धी में बिचौलियों के माध्यम से कराया गया है।इस कार्य के लिए क्षेत्र में दर्जनों दलाल सक्रिय है। बैंक के द्वारा बनाये गए बीसी पॉइंट पर भी भोले भाले आदिवासियों की खतौनी लेकर आवश्यक कागजातों पर अंगूठा लगवाकर केसीसी कर दी जा रही है। दुद्धी कोतवाल ने बताया कि इलाहाबाद बैंक खोले जाने की सूचना हमें नही मिली है अगर इस दौरान कोई भी घटना घटती है तो उसकी जिम्मेदारी बैंक प्रबंधन की होगी।

X

सर्कल सोनभद्र
अपने शहर का अपना ऐप

सोनभद्र, रॉबर्ट्सगंज, घोरावल, दुधि... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

सोनभद्र में 4000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें