जी एल बजाज के छात्र को मिला वैज्ञानिक पुरस्कार

तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में ब्रज मण्डल के ख्यातिनाम जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशन्स के छात्र-छात्राएं लगातार अपनी मेधा का परिचय देते हुए. देश भर में संस्थान का नाम रोशन कर रहे हैं. जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशन्स टेक्निकल, आर्किटेक्ट व बिजनेस की पढ़ाई के साथ ही साथ नवाचार और उद्यमिता के क्षेत्र में भी श्रेष्ठतम संस्थानों में शुमार है. हाल ही यहां के मेधावी छात्र वीरेन्द्र कुमार के डिजिटल मजदूर ऐप व वेबसाइट को डा. एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय द्वारा प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया. छात्र वीरेन्द्र कुमार को पुरस्कार स्वरूप रुपये 20 हजार की प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की गई. ज्ञातव्य है कि गत दिवस लखनऊ में डा. एपीजे अब्दुल कलाम तकनीकी विश्वविद्यालय द्वारा वार्षिक परियोजना और पोस्टर तकनीकी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया. इस प्रतियोगिता का उद्देश्य विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं में नई सोच और प्रस्तुति कौशल को बढ़ाना रहा. इस प्रतियोगिता में देशभर से डेढ़ हजार से अधिक युवा वैज्ञानिकों ने प्रतिभाग किया था. प्रतियोगिता में देश की युवा तरुणाई ने शानदार तकनीकी कौशल का परिचय दिया लेकिन जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशन्स के छात्र वीरेन्द्र कुमार द्वारा बनाया गया. स्टार्टअप ऐप सबके बीच चर्चा का विषय रहा. वीरेन्द्र कुमार का डिजिटल मजदूर ऐप व वेबसाइट एक ऐसा इनोवेशन है. जोकि देश के करोडों मजदूरों के भविष्य को नई दिशा दे सकता है. इस डिजिटल मजदूर वेबसाइट से आप घर बैठे किसी भी प्रकार का मजदूर बुक कर सकते हैं.

X

सर्कल मथुरा
अपने शहर का अपना ऐप

मथुरा, वृंदावन, छाता, महावन, मांट... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

मथुरा में 63000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें