खेतो की और रुख किया, किसानों ने

विगत दिनों हुई अंधड़ के साथ बारिश से किसानों की फसल चौपट हो गई थी , लेकिन अब किसान खेतो में वापस हकाई चुकाई में जुट गए है। बून्द बून्द सिचाई (ड्रिप सिंचाई ) के द्वारा कपास की फसल लगाने के लिए शुरू हो चुके है । किसान कपास के बीज को भरी दोपहरी में लगा रहे है । गुरुवार को मौसम बदलने के साथ हुई बारिश से किसानों के द्वारा 15 दिन पहले बोई गई कपास की फसल चौपट हो गई थी । कई जगह ओलावृष्टि के नुकसान से किसानों को वापस खेतो में ब्यस्त हुए है । बारिश व ओलावृष्टि से किसानों की रजका, ज्वार , टमाटर , कपास की फसल नष्ट हो चुकी थी । जिससे किसान वर्ग के लोग अब गांव की चौपालें छोड़ कर कड़ी धूप में लगे खेतो में ।

X

सर्कल भीलवाडा
अपने शहर का अपना ऐप

आसिंद, कोटरी, गंगापुर, गुलाबपुरा, मांडल... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

भीलवाडा में 2000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें