हिंदू भाई ने भी रखा रोजा, पेश की एकता की मिसाल

This browser does not support the video element.

वैसे तो हमारे आगरे में हमेशा से गंगा जमुनी तहजीब देखने को मिलती रहती है,लेकिन हमारे सामने गंगा जमुना तहजीब कि जीती जागती मिसाल है भी है,जो यह दर्शाते हैं हिंदू मुस्लिम सबके भगवान एक है.मरकज साबरी पर आने वाले भक्त रमजान के महीने में हिंदू मुस्लिम सभी समुदाय के लोग रोजे रखते हैं और सुबह की सहरी से इफ्तार तक का समय मुस्लिम समुदाय के लोगों के साथ ही गुजारते हैं.ताजनगरी आगरा में हिंदू समुदाय के कुछ लोग मिसाल बने हुए हैं,जो कई वर्षों से रोजे रखते हुए आ रहे हैं,उनके पूर्वज भी रोजे रखते थे.उन्होंने बताया कि माहे रमजान में रोजे रखने से हमें भूख प्यास का उन लोगों के लिए एहसास होता है जिनको दो वक्त का खाना नहीं मिलता इसलिए हर इंसान को रोजा रखना चाहिए जिससे सब को भूखे प्यासे लोगों का एहसास हो सके.

X

सर्कल आगरा
अपने शहर का अपना ऐप

फतेहाबाद, किरावली, खेरागढ़, एत्मादपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

आगरा में 69000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें