साढ़े चार साल के मासूम ने रखा रोजा

देहित में साढे चार वर्षीय अनस रजा ने जीवन का पहला रोजा रखा। देहित निवासी मोहम्मद शरीफ ने बताया खुदा की इबादत के लिए साढे चार वर्षीय भतीजे रफीक मोहम्मद ने रोजा की जिद की तो वह बेटे की जिद के आगे मना नही कर सके। बेटे ने परिवार वालो के साथ महज साढे चार साल की उम्र मे रोजा रखा व इफ्तार के समय घर वालो के साथ देश के लिए अमन चैन खुशहाली की दुआ की

X

सर्कल बून्दी
अपने शहर का अपना ऐप

इंदरगढ़, केशवरायपाटन, तालेड़ा, हिण्डोली... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बून्दी में 6000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें