बच्चों का होटलों खोखों व छप्परों पर भविष्य हो रहा अंधकारमय

कस्बे के मुख्य बस स्टैंड के नजदीक होटलों, छप्पर व रेहडियों पर सरेआम शराब मध्य रात्री तक पिलाई जा रही है। इन होटलों, छप्परों व रेहडियों पर नन्हें नन्हें बच्चे ग्राहकों को शराब पिलाते हैं। बंधुआ मजदुरों की भांति बच्चों से होटलों व रेहड़ियों ओर खोखों के मालिक दिन रात इनके भविष्य से खिलवाड़ कर रहे हैं। नन्हें बच्चों के हाथों में किताबें होनी चाहिए तब इन बच्चों के हाथों में शराब की बोतल या गिलास में शराब का पैग पकड़ाया जाता है। प्रशासन को जागरूक नागरिकों ने बार-बार अवगत करवाने के बाद भी कोई ठोस कार्यवाही नही की जाती। कस्बे में प्रशासन के विरूद्व आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है।

X

सर्कल श्रीगंगानगर
अपने शहर का अपना ऐप

सदुलशहर, पदमपुर, सूरतगढ़, अनूपगढ़, घरसाना... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

श्रीगंगानगर में 12000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें