देखिए, कैसे दो सिपाहियों ने फांसी लगा चुके व्यक्ति को किया ज़िंदा

This browser does not support the video element.

थाना कोतवाली शहर की राधानगर चौकी पर तैनात आरक्षी सतेंद्र यादव के पास अचानक एक फोन आया, जिसे रिसीव करने पर एक महिला की आवाज़ रोती हुई सुनाई दी जिन्हीने बताया कि सर आप जल्दी आ जाइये मेरे पति ने कमरे में बंद कर फाँसी लगा ली है। यह सुनते ही उक्त आरक्षी सतेंद्र यादव ने अपने साथी आरक्षी कुलदीप कुमार को तुरंत अपने साथ लेकर उस महिला के बताए हुए पते पर बिना देरी किये हुए पहुँचे तो देखा कि वास्तव में उनके पति ने पंखे से लटके हुए हैं। सिपाही ने तुरंत बिना देरी के दरवाजे को तोड़ कर नीचे उतारा तो ऐसा लग रहा था कि उसने दम तोड़ दिया है, लेकिन फिर भी ट्रेनिंग के दौरान सिखलाये गए तरीके का इस्तेमाल किया तो करीब 5 मिनट बाद एक झटके के साथ सांस ली। सिपाहियों तुरंत थाने से एक गाड़ी मंगाकर उसको हॉस्पिटल ले जाकर भर्ती कराया जहां उसकी हालत अब ठीक है। इस व्यक्ति का नाम शिवकुमार पुत्र सुंदरलाल निवासी धन्नूपुरवा थाना कोतवाली शहर हरदोई है जो जिलाधिकारी कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। इस प्रकार आरक्षियों की तत्परता व सूझ-बूझ से उस व्यक्ति की जान बच गयी। एसपी आलोक प्रियदर्शी ने दोनों सिपाहियों की इस काम के लिए उन्हें सम्मानित करने की घोषणा की है

X

सर्कल हरदोई
अपने शहर का अपना ऐप

बिलग्राम, शाहबाद, संडीला, सवायजपुर… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

हरदोई में 19000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें