जिया के पिता बोले-सफलता का पहला श्रेय बेटी का

This browser does not support the video element.

प्रदेश स्तरीय सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में दो गोल्ड मैडल हासिल करने वाली नन्ही जिया के पिता भी अपनी बेटी की इस सफलता पर फूले नहीं समा रहे। हालांकि इस सफलता का पहला श्रेय वह अपनी बेटी को ही देते हैं। जिया के पिता विजय यादव का कहना है कि उन्होंने अपनी बेटी को रेगुलर प्रैक्टिस पर रखा। यदि स्टेडियम का स्विमिंग पूल बंद हो जाता था, तो वह दूसरे स्विमिंग पूल पर ले जाकर बेटी को तैराकी का अभ्यास कराते थे। अपने काम से प्रतिदिन 2 से 3 घंटे वह अपनी बेटी को देते थे। उनका कहना है कि जैसे-जैसे बेटी बढ़ती जाएगी, वैसे-वैसे उनका सपोर्ट भी बेटी के साथ बढ़ता जाएगा।

X

सर्कल झांसी
अपने शहर का अपना ऐप

गरौठा, झाँसी, टहरौली, मऊरानीपुर, मोठ… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

झांसी में 13000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें