सैयद मिन्हाज़ुद्दीन अजमली की अहलिया(पत्नी) सुपुर्दे खाक

This browser does not support the video element.

नगर के मोहल्ला बड्ढा निवासी दरगाह शाहवली कादरी के सज्जादा नशीं सैयद मिन्हाज़ुद्दीन अजमली की अहलिया(पत्नी) शबाना अजमली को बुधवार की सुबह 9:00 बजे मद्दन पर सुपुर्दे खाक कर दिया गया। इस मौके पर दूर दूर से सैय्यद मिन्हाजुद्दी के मुरीद व इनके चाहनें वाले हजारों की संख्या में पहुंचकर इस जनाज़े में हिस्सा लिया। सर्व प्रथम उनके जनाजे को उनकी पैतृक आवस बड़ा फाटक से निकाल कर मद्दन पर ले जाया गया। जहां पर सैय्यद मिन्हाज़ुद्दीन के बड़े भाई सैय्यद शेराज अजमली (प्रोफेसर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी) नें लोगों को तक़रीर करके बताया कि हर जानदार चीज को मौत का मजा चखना है। इससे कोई भी बच नहीं सकता चाहे वो दुनिया का कितना भी ताकतवर इंसान ही क्यों न हो मौत से कोई भी बच नहीं सक्ता। इस लिए हमें अपने आमाल को सुधारने की जरूरत है नेकी के रास्ते पर चलने की तथा गलत रास्ते पर चलनें से बचने की जरूरत है। इस मौके पर वहां मौजूद हजोरों की संख्या में दूर दूर से आए लोगों ने मरहुमा के लिए मगफिरत की दुआ मांगीं। ततपश्चात लोगों ने सलातो सलाम पढ़ा उसके बाद सैय्यद शेराज अजमली नें ठीक 8:30 बजे जनाजे का नमाज पढ़ाया तथा बगल के ही कब्रिस्तान में उनको सुपुर्दे खाक किया गया। इस दौरान पूरा माहौल गमगीन हो गया। लोगों ने उनके कब्र पर फातिहा पढ़ा तथा और उनको जन्नत और मगफिरत की दुआ मांगी। इस अवसर पर उन्हों ने वहां उपस्थित सभी लोगों से कहा कि गुरुवार को सुबह 7:00 बजे कुरान ख्वानी का प्रोग्राम बड़े फाटक स्थित जमा मस्ज़िद पर रखा गया है आप लोग ज्यादा से ज्यादा तादाद में पहुंच कर इस कुरान ख्वानी में हिस्सा लें।

X

सर्कल बलिया
अपने शहर का अपना ऐप

बेल्थरा रोड, बॉसडीह, बैरिया, सिकंदरपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बलिया में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें