विश्व जैव विविधता दिवस पर किया संगोष्ठी का आयोजन

डूंगरपुर- अन्र्तराष्ट्रीय जैव विविधता दिवस के अवसर पर आज दिनांक 22.05.2019 को राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जयपुर द्वारा जारी एक्शन प्लान वर्ष 2019-20 के अनुसरण में महेन्द्रसिंह सिसोदिया, अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, (जिला एवं सेशन न्यायाधीश), डूंगरपुर के निर्देशन में वागदरी के राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर विधिक सेवा शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर प्राधिकरण के सचिव अमित सहलोत, हेड काॅस्टेबल गिरीराजजी, काॅस्टेबल शांतिलाल व महावीर जी सचिव ग्राम पंचायत गोविन्द कोटेड, कांतिलाल डामोर पंचायत सहायक एवं अन्य सदस्यगण मौजुद रहे। इस अवसर पर अमित सेहलोत सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उपस्थित आमजन को बतया कि जैव विविधता के महत्वपूर्ण होने के पीछे तर्क है की यह पारिस्थितिकीय प्रणाली के संतुलन को बना के रखती है विभिन्न प्रकार के पशु-पक्षी तथा वनस्पति एक दूसरे की जरूरतें पूरी करते है और साथ ही ये एक दूसरे पर निर्भर भी है। उदाहरण के तौर पर मनुष्य को ही ले लीजिए अपनी मूलभूत आवश्यकता जैसे खाने, रहने के लिए वह भी पशु, पेड़ और अन्य तरह की प्रजातियों पर आश्रित है। हमारी जैव विविधता की समृद्धि ही पृथ्वी को रहने के लिए तथा जीवन यापन के लायक बनाती है। दुर्भाग्य से बढ़ता हुआ प्रदूषण हमारे वातावरण पर गलत प्रभाव डाल रहा है। बहुत से पेड़-पौधे तथा जानवर प्रदूषण के दुष्परिणाम के चलते अपना अस्तित्व खो चुके है और कई लुप्त होने की राह पर खड़े है। अगर ऐसा ही रहा तो सभी प्रजातियों के सर्वनाश का दिन दूर नहीं है। उन्होने बताया कि सबसे पहले इंसान को जैव विविधता के महत्व को समझना होगा। सड़को पे दौड़ते बड़े बड़े वाहन बड़े पैमाने पे प्रदूषण फैला रहे है जो मनुष्य जाति के लिए बहुत बड़ा खतरा है। वातावरण की शुद्धता को बचाने के लिए इन वाहनों पर अंकुश लगाना होगा ताकि ये वातावरण को और दूषित न कर पाए। वनों की कटाई भी एक बहुत बड़ी वजह है जैव विविधता में होती गिरावट का इससे न सिर्फ पेड़ो की संख्या घटती जा रही है बल्कि कई जानवरों एवं पक्षियों से उनका आशियाना भी छिनता जा रहा है जो उनके जीवन निर्वाह में एक बड़ी मुसीबत बन चुका है। वातावरण की दुर्गति को देखते हुए अधिक से अधिक संख्या में पेड लगाने होगें, प्रदुषण को कम करना होगा ताकि इस पर तुरंत प्रभाव से नियंत्रण किया जा सके।

X

सर्कल डूंगरपुर
अपने शहर का अपना ऐप

आसपुर, गलियाकोट, जोंतरी, सबला, सागवाडा... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

डूंगरपुर में 7000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें