गठबंधन में नेताओं का मिलन तो हुआ, लेकिन कार्यकर्ताओं का नहीं

This browser does not support the video element.

2019 के लोकसभा चुनाव को एक साथ मिल करने वाले समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी के गठबंधन को अब टूटते हुए देखा जा रहा है। एक तरफ जहां बहुजन समाज पार्टी कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने समाजवादी पार्टी से अलग होकर उपचुनाव में लड़ने का मन बना लिया है तो दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने भी उपचुनाव में अलग लड़ने का मन बना लिया है। इस दौरान जब बहुजन समाज पार्टी के जिला संयोजक भारतेंदु चौबे ने पत्र प्रतिनिधियों से बात करते हुए कहा कि गठबंधन धर्म का पालन नहीं किया गया। जिस मयाने के लिए गठबंधन बहन जी द्वारा किया गया था। उत्तर प्रदेश में गठबंधन को लाभ नहीं मिला। नेताओं का मिलन तो हुआ गठबंधन में लेकिन कार्यकर्ताओं द्वारा गठबंधन धर्म का पालन नहीं किया गया। कार्यकर्ताओं की गड़बड़ी से उत्तर प्रदेश में गठबंधन की हार हुई। बहन जी ने जो निर्णय लिया है उसका हम सब सम्मान करते हैं और आगे भविष्य में भी उन्हीं के द्वारा लिए गए निर्णय पर पार्टी के कार्यकर्ता कार्य करते रहेंगे।

X

सर्कल बलिया
अपने शहर का अपना ऐप

बेल्थरा रोड, बॉसडीह, बैरिया, सिकंदरपुर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बलिया में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें