माहद मुर्शिदुल उम्मत में दीनी तालीम का नया सत्र हुआ शुरू

असारा गांव में माहद मुर्शिदुल उम्मत में दीनी तालीम का नया सत्र शुरू हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में मुफ्ती खलील अहमद कासमी शाही इमाम असारा उपस्थित रहे। मुफ्ती खलील ने कहा कि जब किसी भी चीज की नीवं पक्की होती है तो उसे कोई गिराने या हटाने वाला नहीं होता। इसी तरह तालीम अगर शुरू से ही मजबूत लेकर चलो गे तो कामयाब रहेगे। मौलाना मौ मुसतकीम व मौलाना मौ फुरकान ने कहा कि आज के जमाने में तालीम बहुत जरूरी है हमे चाहिए कि दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी तालीम भी हासिल करें। डाक्टर मौ यूसुफ चौधरी ने कहा कि हमारे मदरसों के छात्र व छात्राएं दोनी तालीम के साथ साथ दुनियावी तालीम हासिल करके डाक्टर इन्जीनियर डीएम वगेरा बन कर अपने मुल्क की सेवा करें । मदसे के संस्थापक कारी मौ यूसुफ ने कहा कि हमारे मदरसे में दीनी तालीम के साथ साथ दुनियावी तालीम भी दी जाती है। उन्होंने बताया हमारे यहां बच्चों का जहन जिस तालीम की ओर ज्यादा चलता है। हम उसको उसी लाइन में चलाने की कोशिश करते हैं । चौ साबिर अली ने मदरसे के काम को अच्छा देखते हुए मुबारकबाद पेश की और आगे भी महनत करने की हिदायत दी परौगराम की अध्यक्षता कारी मौ यूसुफ ने की तथा संचालन कारी मौ तारिक फलाही असारवी प्रिंसपल माद मुर्शिदुल उम्मत असारा ने किया। मौ समीर पुत्र मौ उस्मान का हिफजे कुरआन भी शुरू कराया गया। इस मौके पर मुफ्ती मौ तहसीन मौलाना, मौ तलहा मौलाना, मौ फुरकान कारी, मौ तारिक फलाही, असारवी हाफिज, मौ शारिक मास्टर, महरबान अली मास्टर, मौ उमर, साबिर अली और मदरसे के सभी छात्र व छात्राएं मौजूद रहे।

X

सर्कल बागपत
अपने शहर का अपना ऐप

बागपत, खेकड़ा, बड़ौत... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

बागपत में 5000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें