कौशल विकास प्रशिक्षण में ग्रामीण छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं

जौनपुर वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय परिसर में 1 जून से शुरू कौशल विकास प्रशिक्षण में ग्रामीण छात्र बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। परिसर मे कौशल विकास का पहला बैच शुरू हो गया। 10वीं उत्तीर्ण स्टूडेंट्स जो व्यावसायिक कोर्स करके कॅरियर बनाना चाहते हैं और कुछ विद्यार्थियों को स्वरोजगार में रुचि हो सकती है (घरेलू इलेक्ट्रीशियन - टूलसेट और किट) या अपना व्यवसाय (DTP और प्रकाशन) शुरू करना चाहते हैं वे कोर्स में मुफ्त नामांकन करवा सकते हैं। पूर्वांचल विश्वविद्यालय ग्रामोदय समिति के समन्वयक शील निधि सिंह ने कहा कि बेहतर कॅरियर निर्माण के लिए कम से कम एक व्यावसायिक कोर्स अनिवार्य होता है, उसी को ध्यान में रखते हुए विश्वविद्यालय परिसर मे ग्रामीण छात्रो के लिए जो 10वीं, 12वीं कक्षा ड्राप आउट या किसी वजह से आगे अपनी पढ़ाई नही कर पा रहे है उन विद्यार्थीयो के लिए निशुल्क कौशल विकास एवं प्रशिक्षण का शुरुआत की गई है। इस प्रोग्राम को करने के बाद विद्यार्थियों को रोजगार मिलने में काफी सहायता मिलेगी। विद्यार्थियों का प्लेसमेंट एक बहुत ही महत्वपूर्ण घटक है। हम 75% रोजगार या स्वरोजगार का लक्ष्य रखते हैं।कोर्स पूरी होने के बाद परीक्षा ली जाएगी। परीक्षा में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को प्रमाण पत्र दिया जाएगा। समिति के सदस्य राजन कुमार  एवं संतोष यादव ने बताया कि इस प्रोग्राम मे सीमित सीटें ही है सीटें भर जाने के बाद अगला आवेदन अगले बैच के लिए होगा विद्यार्थी चाहे तो अगले बैच का आवेदन पहले ही करा सकते है।

X

सर्कल जौनपुर
अपने शहर का अपना ऐप

केराकत, बदलापुर, मछली शहर, मड़ियाहूं... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

जौनपुर में 7000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें