खर-घर कचरा संगठन को लेकर आयुक्त और संवेदक आमने-सामने

घर घर कचरा संग्रहण कार्य को लेकर सोमवार को नगर परिषद आयुक्त और संवेदक आमने-सामने हो गए| मामले की शुरुआत मिनी सचिवालय में जब एसडीएम अनशन कारियों से वार्ता कर रहे थे तब हुई| अनशन कारियों का आरोप था कि सफाई संवेदक उनके महंत आने में से ऊपरी राशि काटता है| इस पर एसडीएम ने सफाई संवेदक और आयुक्त को भी बुला लिया| एसडीएम ने सफाई संवेदक से इस बारे में बात की तो आयुक्त ने कहा घर-घर कचरा संग्रहण का कार्य आदेश मार्च 2018 में ही समाप्त हो गया| इसी बात को लेकर संवेदक और आयुक्त आमने-सामने हो गए| दोनों में काफी देर तक नोक झोंक और तीखी तकरार हुई| आयुक्त का कहना था कि कार्यादेश केवल मार्च 2018 तक ही था और इसका भुगतान कर दिया गया, इसके बाद भी यदि काम किया है तो इसकी भरपाई संवेदक खुद करें नगर परिषद इसका भुगतान नहीं करेगी| इस पर संवेदक बृजेश उपाध्याय ने आदेश की प्रति दिखाते हुए कहा कि उनके पास मई 2018 में नप आयुक्त की ओर से जारी आदेश की पत्र की प्रति है, जिसमें उन्हें सभी वार्डों में कचरा संग्रहण कार्य सुचारू रखने की बात कही गई है, उन्हें ठेका खत्म होने का कोई आदेश प्राप्त नहीं हुआ है। इस पर एसडीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए इसकी निष्पक्ष जांच करने और यदि इसमें लापरवाही है तो एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश दिए।

X

सर्कल सवाई माधोपुर
अपने शहर का अपना ऐप

बमनवस, बोनली, गंगापुर, मलामा, डूंगर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

सवाई माधोपुर में 14000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें