ताऊसर में अतिक्रमण हटाने के दौरान विरोध, पथराव में घायल जेसीबी चालक की मौत

This browser does not support the video element.

हाईकोर्ट के निर्देश पर  नागौर उपखण्ड के  ताऊसर की 6-7 बीघा चारागाह भूमि पर बसे कमजोर वर्ग बंजारा, घुमन्तु पिछड़ी जाति के लोगों के मकान सहित अन्य अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के दौरान  विरोध में पथराव में घायल हुए नगर परिषद के चालक की मौत हो गई । इसके बाद आक्रोशित लोगों ने नागौर की जय अस्पताल के सामने जाम लगा दिया है ।आज सुबह भारी जाब्ते के साथ शुरू हुई । कार्रवाई के दौरान विरोध के दौरान पथराव और हल्के बलप्रयोग के बाद कई चोटिल हो गए । चोटिल हुए लोगों का प्राथमिक उपचार जारी है विरोध जताने वाले कई अतिक्रमीयो को हिरासत में लिया गया।  पथराव के कारण एक जेसीबी चालक के गंभीर रूप से घायल होने पर जोधपुर रेफर किया गया लेकिन बीच रास्तेे में ही जेसीबी चालक ने दम तोड़ दिया । बंजारा बस्ती से वर्षो पुराने अतिक्रमण को हाईकोर्ट के आदेश पर भारी पुलिस जब्ते के बीच जेसीबी मशीनों से  अतिक्रमण हटाया गया आज की कार्यवाही पर सांसद हनुमान बेनीवाल ने संसद में भी अतिक्रमण नही हटाने और पुनर्वास की मांग रखी थी। विरोध की संभावना के मद्देनजर प्रशासन ने  भारी पुलिस जाब्ता पहले ही तैनात कर दिया था  मौके पर पहुंची ,मेड़ता विधायक इंद्रा बावरी सहित कई जनप्रतिनिधियो भी अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई का विरोध  दर्ज करवाया। चोटिल हुए लोगों  की सुध लेने जेएलएन अस्पताल में नागौर जिला कलेक्टर दिनेश कुमार यादव व एसपी डॉक्टर विकास पाठक पहुंचे।  ।अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करने से पहले एक दिन पहले ही जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव, एसपी डॉ. विकास पाठक सहित पुलिस एवं प्रशासन के अधिकारी पुलिस जाब्ते के साथ बंजारों की ढाणियों में पहुंचे तथा अपने आप अतिक्रमण हटाने के लिए कहा था लेेकिन सभी लोोगों केे अतिक्रमण नही हटाने के बाद  आज प्रशासन और पुलिस अधिकारी अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचे ।

X

सर्कल नागौर
अपने शहर का अपना ऐप

जायल, लडनु, मकराना, मेड़ता, नवा, परबतसर... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

नागौर में 13000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें