पीएम आवास योजना का भष्टाचार उजागर

This browser does not support the video element.

प्रदेश सरकार जहां भ्रष्टाचार मुक्त शासन की बात लगातार कहती चली आ रही है। वही गोरखपुर में प्रधानमंत्री आवास योजना में रिश्वत मांगने का आरोप एक लाभार्थी ने लगाकर प्रदेश सरकार के दावों पर सवालिया निशान लगा दिया है। गोरखपुर का रहने वाला चंदन शर्मा नाम का एक व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान के लिए आवेदन किया था इस आवेदन की जांच में लेखपाल शिवानंद का मुंशी मनोज भारती ने रिपोर्ट लगाने के बदले ₹15000 की मांग की पैसा ना देने पर उसका नाम लाभार्थियों की लिस्ट से काट दिया गया। इस बात की शिकायत लेकर वह नगर विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल के पास पहुंचा,तो विधायक ने उससे शिकायत संबंधी प्रार्थना पत्र लेकर जिलाधिकारी को इस मामले की जांच के लिए एक पत्र लिखा,और अपने कार्यकर्ता के साथ जिलाधिकारी के पास भेजा साथ ही चंदन शर्मा का एक वीडियो भी बनाया जिसमें वह इन आरोपों की बात कह रहा है।मजे की बात तो यह है।कि इन सारी बातों का बेवरा वीडियो सहित नगर विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल ने अपने फेसबुक वॉल पर अपडेट कर दिया 20 अगस्त को फेसबुक पर पोस्ट किए गए पीड़ित के बयान प्रार्थना पत्र और जिलाधिकारी को लिखी गई चिट्ठी विधायक ने फेसबुक के जरिए सार्वजनिक कर दिया इस संबंध में जब विधायक से बात की गई तो उन्होंने कहा की सरकार भ्रष्टाचार मुक्त शासन की बात करती है।और उसके अधीनस्थ अधिकारी सरकार की मंशा पर पानी फेर रहे हैं।इसलिए मैंने जिलाधिकारी को चिट्ठी लिखकर जांच कराने के लिए कहा है।विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल से जब पूछा गया कि उन्होंने इन सारे मामले को फेसबुक पर क्यों डाला तो उन्होंने कहा की फेसबुक पर डाल कर मैं लोगों को जागरूक करना चाहता हूं. जिस तरह से मीडिया एक माध्यम है। जन-जन तक पहुंचने का उसी प्रकार से फेसबुक भी एक बहुत बड़ा माध्यम जनता तक पहुंचने का है। मेरी इस पोस्ट से अन्य लोग भी जागरूक होंगे और भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाएंगे.बाहरहाल सत्ता पार्टी के विधायक होते हुए भी अपने ही प्रशासन पर भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाले विधायक ने एक नई इबारत राजनीति में लिख दी है।अब देखना यह होगा की प्रशासनिक अधिकारी सत्ता पार्टी के विधायक के पत्र पर क्या कार्रवाई करते हैं।

X

सर्कल गोरखपुर
अपने शहर का अपना ऐप

कैम्पियरगंज, चौरी चौरा, बांसगांव, हरनहीं... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

गोरखपुर में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें