बाहुबली मुख्तार अंसारी का करीबी बृजेश!

मऊ- जनपद पुलिस और प्रयागराज पुलिस टीम को उस समय एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब प्रयागराज के थाना कैंट क्षेत्र में सर्कुलर मोड़ के पास कहीं पर दबिश देने जा रहे थानाध्यक्ष को मऊ जनपद के थाना कोपागंज के अंतर्गत एक हत्या के मामले में फरार चल रहे पचास हजार इनामिया और वांछित अभियुक्त कथित भाजपा नेता बृजेश सोनकर उर्फ बच्चा लाल सोनकर निवासी मठिया टोला थाना कोतवाली को स्कॉर्पियो से जाते देख उसका पीछा किया और जद्दोजेहद के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि मऊ जिले थाना कोपागंज अंतर्गत बीते दिनों सुबाष राम हत्या कांड कारित किया व घटना में प्रयुक्त एक तमंचा व तीन जिंदा कारतूस बंधा रोड पर एक धार्मिक स्थल के पीछे नदी के तल में छुपाया हुआ है । जिसको पुलिस ने निशानदेही पर बरामद कर लिया। यह बृजेश सोनकर पंद्रह साल से जेल में बंद मऊ सदर के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का राइट हैंड हुआ करता था । मऊ शहर में एक चर्चित हत्याकांड प्रदेश के "ए" ग्रेड के ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह उर्फ मन्ना की हत्या में यह मुख्तार अंसारी गैंग में सहयोगी के रूप में नामजद हो जेल गया था और वर्तमान में जमानत पर चल रहा था। जमानत में छूटने के बाद इसने प्रॉपर्टी के धंधे में अपने बाहुबली के कनेक्शन का फायदा उठाकर काफी धन बटोरा। कमजोर दलितों के जमीनों पर इसकी खास नजर हुआ करती थी। वह उसे येन केन प्रकारेण मुआवजाबय (एग्रीमेंट) आदि कराकर जमीन पर कब्जा कर लेता था। बाद में उन जमीनों को अपने मनमाने दामों पर बेच देता था। सत्ता की हवा बदलने के साथ इसने अंसारी का साथ छोड़ भाजपा के नेताओं का पिछलग्गू बन गया था। सार्वजनिक जगहों पर जैसे तैसे बड़े नेताओं के आसपास खड़े होकर फोटो खिंचवाना इसके आदत में शुमार था। इन फोटो का इस्तेमाल वह अधिकारियों और पार्टी के छुटभाईया नेताओं पर रौब गालिब करने के लिये करता था। लेकिन सुभाष राम हत्याकांड में मऊ पुलिस और शासन ने निष्पक्षता दिखाते हुए तकनीकी आधार पर उसे दोषी पाया और परिवार वालों की रिपोर्ट पर उसके पीछे पुलिस हाथ धोकर पर गई थी। जिस से बचने के लिए वह लगातार हमेशा जिला बदलता रहा। लेकिन यूपी पुलिस की बाज नजरों से नहीं बच सका।

X

सर्कल मऊ
अपने शहर का अपना ऐप

मऊ, मधुबन, घोसी, मुहम्मदाबाद गोहना... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

मऊ में 1000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें