बरसात का कहर,भगवान भरौसे शहर

This browser does not support the video element.

शहर में दो दिन से वर्षा का दौर जारी है। गुरुवार से ही कभी रुक-रुक कर तो कभी तेज वर्षा हो थी, शुक्रवार को सुबह से ही तेज बारिश होने लगी, जो पूरे दिन जारी रही।24 घंटे में 4 इंच वर्षा होने से शहर के अधिकांश इलाके जलमग्न हो गए। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे अलर्ट जारी कर भारी वर्षा की चेतावनी दी है। इसी के मद्देनजर स्कूलों में दो दिन शुक्रवार,शनिवार को अवकाश घोषित कर दिया गया है। आज की वर्षा ने फिर शहर के जल निकासी व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। शहर का जीवन थम सा गया। काफी स्कूलों के बच्चे सुबह स्कूल जा चुके थे,कई बच्चे स्कूल गए ही नही। बाद में स्कूलों में छुट्टी कर दी। रोजमर्रा के काम,ड्यूटी जाने वालों को भीगते हुए चक्कर लगा कर अपने गंतव्य तक पहुंचना पड़ा। जिले के हाकिमों के कार्यालय और निवास, पुलिस क्वार्टर, अस्पताल सहित कई जगह पानी से घिर गए। कलक्ट्रेट के चारों तरफ पानी ही पानी हो गया। रातानाडा स्थित पुलिस का आवासीय परिसर भी लबालब हो गया। घर के अंदर का सामान भीग गया। आज की वर्षा कई लोगों के लिए कहर बन कर आई। गुलजारपुरा में एक मकान पर पहाड़ी से बड़ा पत्थर गिर गया जिसने दो जिंदगियां लील ली,और एक घायल हो गया, जिसका इलाज चल रहा है। शहर के अंदर निमाज की हवेली की दीवार गिर गई,गनीमत रही कोई चपेट में नही आया। नागौरी गेट क्षेत्र के नया तालाब इलाके में एक मकान की पत्थर की पट्टियां टूट जाने से एक व्यक्ति घायल हो गया। प्रशासन ने मकान खाली करवा दिया। इसी प्रकार शहर के भीतरी इलाके में आड़ा बाजार में एक मकान गिर गया। इस मकान का कुछ हिस्सा पिछले बारिश में गिरा था, बांकी का हिस्सा आज गिर गया। यहां भी जानमाल का कोई नुकसान नही हुआ। शहर के सबसे बड़े हॉस्पिटल मथुरादास माथुर अस्पताल जलमग्न हो गया यहां 2 फिट तक पानी भर गया,जिससे दवाइया व कई उपकरण भीग गए। मरीजों को काफी परेशानी हुई। भीतरी क्षेत्र में एकमिनार मस्जिद के पास तेज बहाव में जीप बहने लगी। लोग देख कर अचंभित हो गए। मंडोर स्थित जीरा मंडी में पानी भर जाने से लाखों का जीरा पानी की भेंट चढ़ गया। मंडोर गार्डन के ऊपर स्थित नागादड़ी झील कई वर्षों बाद भर कर उसमें जलप्लावन होने लगा। बारिश के चलते 2 ट्रेन भी रद्द हुई, जोधपुर-इंदौर सुपरफास्ट और जोधपुर- अहमदाबाद पैसेंजर रद्द हुई। पाल रोड पर खेमका कुआ में एक बड़ा वृक्ष गिर गया जिससे एकतरफ की रोड बन्द हो गई। जिसे हटाया गया। जिले के बालरवा के पास राजीव गांधी लिफ्ट नहर टूट गई। नहर का पानी गांव में घुस गया। इसी नहर का पानी जोधपुर की प्यास बुझाता है। यह वर्षा कहीं परेशानी तो कही सुकून भी लेकर आई। जहां गर्मी से तो निजात मिली,लोगों ने कूलर-ऐसी अब बन्द कर दिए। मौसम खुशगवार हो गया। जोधपुर के आसपास की पहाड़ियां जो हमेशा सूखी रहती हैं,आज उनमें पहाड़ी इलाकों जैसे झरने बहने लगे। बेरीगंगा,दईजर,मेहरानगढ पहाड़ी, कदमकंडी और अरना-झरना में झरने बहने लगे। कुछ लोग वर्षा में भीगते हुए ही पिकनिक मनाने भी निकल पड़े तो कुछ अपने काम पर भी नही गए। शहर में गर्मागर्म मिर्चिबड़े,समोसे,कोपते,दाल के बड़े,गर्मागर्म इमरती की दुकानों में भारी भीड़ नजर आई। लोगों ने घरों में भी पकोड़े,भुट्टे आदि का आनन्द लिया।

X

सर्कल जोधपुर
अपने शहर का अपना ऐप

ओसियां, तिंवरी, पीपाड़, फलोदी, बालेसर,... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

जोधपुर में 17000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें