पुलिस ने फर्जी शस्त्र लाइसेंस बनाने वाले गिरोह के दो सदस्यों को किया गिरफ्तार

This browser does not support the video element.

शाहजहांपुर पुलिस ने फर्जी शस्त्र लाइसेंस का बड़ा खुलासा किया है । जहां पुलिस ने फर्जी लाइसेंस बनाने वाले दो लोगों को गिरफ्तार किया है । पकड़े गए लोगों के पास से 4 राइफल बरामद हुई है। साथ ही 5 फर्जी लाइसेंस भी पकड़े गए हैं। इससे पहले गाजियाबाद पुलिस ने भी शाहजहांपुर के गिरोह को गिरफ्तार किया था। फिलहाल पुलिस इस पूरे गिरोह के नेटवर्क का पता लगाने में जुट गई है। शाहजहांपुर जनपद इन दिनों फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में पूरे यूपी में नंबर वन पर है । आंकड़ों की मानें तो यहां एक हजार से ज्यादा फर्जी लाइसेंस बनाए गए हैं । हाल ही में गाजियाबाद पुलिस ने फर्जी लाइसेंस बनाने वाले शाहजहांपुर के ग्रहों का पर्दाफाश किया था। इसके बाद फ़र्ज़ी लाइसेंस बनाने का धंधा लगातार जारी है । आज शाहजहांपुर पुलिस ने फर्जी लाइसेंस बनाने वाले गिरोह के 2 लोगों अमर सिंह और कमल कुमार को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से तीन राइफल दोनाली बंदूक और पांच कारतूस बरामद हुए हैं । साथ ही 5 फर्जी लाइसेंस भी बरामद किए गए हैं। पुलिस की मानें तो इस गिरोह के 5 सदस्य अभी फरार हैं जिनकी जल्द ही गिरफ्तारी की बात पुलिस कर रही है। आपको बता दें कि इससे पहले शस्त्र लाइसेंस विभाग का असला बाबू फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में जेल जा चुका है। और एक हफ्ते पहले गाजियाबाद पुलिस ने यहां के खुटार थाना छेत्र से अवस्थी गन हाउस के मालिक को फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में गिरफ्तार किया था। यहां चौकाने वाली बात यह है कि फर्जी लाइसेंस पर सलाह भी खरीदे गए हैं और बड़े पैमाने पर कारतूस और की भी खरीद फरोख्त की जा रही है । अगर जल्दी जिला प्रशासन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने सकते हैं।

X

सर्कल शाहजहांपुर
अपने शहर का अपना ऐप

शाहजहांपुर, तिलहर, पुवायां, जलालाबाद, सदर… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

शाहजहांपुर में 9000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें