बच्चा चोर अफवाहों के चलते पागल औरत से की मारपीट

सुनेल नगर मैं बच्चा चोरों के सक्रिय होने की अफवाह की आग अब शहरों से होते हुए गांवो तक पहुंचने लगी है। राजस्थान के  झालावाड़ जिले में कुछ हिस्सों में भी बच्चा चोरी होने की अफवाह उड़ाई जा रही है। सोशल मीडिया (विशेष रूप से वॉट्स एप) पर भी इस संबंध में कई मैसेज वायर हो गए हैं। इसी अफवाह के चलते हुए झालावाड़ जिले के  सुनेल तहसील का गाव  ढाबला खिंची में शनिवार को सुबह 9:00 बजे  लोगों ने  एक  औरत को देखा  जिसे  बच्चा पकड़ने वाली समझा  उसके चलते कुछ लोगों ने  हल्की-फुल्की मारपीट की गई  उसके बाद  उसे पकड़कर  थाने में ला रहे थे  तो  पूर्व सरपंच  गंगाराम धाकड़  ने बताया  कि वह  औरत पागल है पेट की भूख की खातिर दिन भर  घूमती रहती है उनके द्वारा लोगों को समझाया कि  अफवाहों पर ध्यान नहीं दें  और समझाइश करने के बाद तो फिर लोगों ने  ढाबला खींची  चौराहे पर ही  उस औरत को  छोड़ दिया। इस संबंध में सुनेल  थाना प्रभारी  जितेंद्र सिंह ने इन अफवाहों के प्रति लोगों को सतर्क किया है। साथ ही अफवाह उड़ाने वालों के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।पुलिस उपाधीक्षक वर्दी चंद गुर्जर के अनुसार बच्चा चोरी की अफवाह राज्य के कई इलाकों में फैली हुई है, लेकिन कहीं भी बच्चा चोरी होने की सूचना नहीं है। सूत्रों के अनुसार अब  में भी यह अफवाह तेजी से फैल रही है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार वॉट्स एप के जरिए कुछ मैसेज आ रहे हैं, इसके कारण अब यहां के मोहल्लों में इन अफवाहों की चर्चा जोर पकड़ने गली है। पुलिस ने की अपील:-कहीं कोई बच्चा चोर गिरोह सक्रिय नहीं है, अब तक कहीं भी बच्चा चोरी की घटना नहीं हुई है। गांव- मोहल्ले में कोई संदिग्ध दिखे तो इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दें। किसी अनजान के साथ केवल संदेह के आधार पर मारपीट न करें, किसी भी स्थिति में कानून हाथ में न लें। किसी भी तरह के अफवाह पर ध्यान न दें। सोशल मीडिया पर किसी तरह की अफवाह को शेयर न करें, ऐसे करने पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है। पुलिस उपाधीक्षक वर्दी चंद गुर्जर ने बताया बच्चा चोरों के सक्रिय होने की बात पूरी तरह अफवाह है। अब तक कहीं से भी बच्चा चोरी की सूचना या रिपोर्ट नहीं आई है। बच्चा चोर के संदेह में हो रही मारपीट की घटनाओं को रोकने पुलिस लगातार कोशिश कर रही है। मुनादी के साथ ही गांव में डोर टू डोर लोगों से संपर्क कर उन्हें समझाया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में सरपंच, कोटवार और ग्रामीणों की लगातार बैठक ली जा रही है, ताकि वे लोगों के बीच जाकर उन्हें जागरूक कर सकें। इसके बाद भी यदि कोई निर्दोषों के साथ मारपीट करता है, तो पुलिस उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी।"

X

सर्कल झालावाड़
अपने शहर का अपना ऐप

अकलेरा, असनावर, खानपुर, गंगधार, पचपहाड़... की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

झालावाड़ में 8000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें