राम मंदिर बाबरी मस्जिद मामले पर अपने-अपने दावे

This browser does not support the video element.

अयोध्या में राम मंदिर बाबरी मस्जिद मामले पर पक्षकारों के अपने-अपने दावे हैं। सुप्रीम कोर्ट में आज हुई सुनवाई पर रामलला विराजमान की वकील ने दलील दी कि राम मंदिर को तोड़कर ही बाबरी मस्जिद बनाई गई थी।इसको लेकर अयोध्या में दोनों समुदायों के पक्षकारों की अपने-अपने दावे हैं।मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी ने दावा किया कि 1949 में बाबा अभिराम दास ने बाबरी मस्जिद में जबरदस्ती रामलला की मूर्ति रखकर पूजा अर्चन करने लगे और यह दुनिया जानती है कि बाबरी मस्जिद तोड़ी गई जिसे सारे विश्व में देखा।इकबाल अंसारी ने कहा कि राम मंदिर बाबरी मस्जिद मामले को लेकर अयोध्या राजनीति का अखाड़ा बन गया है।वही विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता शरद शर्मा ने दावा किया कि मुगल सम्राट बाबर के सिपहसालार मीर बाकी ने राम मंदिर तोड़कर बाबरी मस्जिद का निर्माण करवाया था।पुरातत्व विभाग की खुदाई में राम मंदिर होने के सबूत मिले हैं उसी आधार पर सुप्रीम कोर्ट में दलील दी जा रही है।

X

सर्कल अयोध्या
अपने शहर का अपना ऐप

बीकापुर, मिल्कीपुर, रूदौली, सोहावल… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

अयोध्या में 11000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें