खबर कवरेज करने गए पत्रकार पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला,पूरे दिन चला बवाल,मुकदमा दर्ज

This browser does not support the video element.

खबर कवरेज करने गए पत्रकारों को विद्यालय कक्ष में बंधक बनाकर धारदार हथियार से शिक्षकों ने जान लेवा हमला कर दिया । इसमें एक पत्रकार गंभीर रुप से घायल हो गया व दूसरे को भी काफी चोटे आयीं है । शिक्षकों ने पत्रकार के साथ लूटपाट भी की है । इससे पत्रकारों में रोष व्याप्त है । घटना शिक्षा क्षेत्र रुदौली के परिषदीय प्राथमिक विद्यालय सड़री की है । जहां के अभिभावकों द्वारा यह जानकारी दी गई थी कि तराई क्षेत्र के अधिकांश विद्यालय के शिक्षक समय से नहीं आते ही हैं आते भी हैं तो गप्पे मारने में समय बिता देते हैं । सप्ताह में कई दिन नदारद रहते हैं यही कारण है कि कक्षा एक से आठ तक के छात्रों को किसी अधिकारी व प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री का नाम भी मालूम नहीं रहता है । बरसात में कई विद्यालय जल भराव की जद में आ जाते हैं । इससे छात्रों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है । पत्रकारों के गुरुवार की सुबह लगभग साढ़े नौ बजे मरौचा प्राथमिक विद्यालय पहुंचने पर प्रधानाध्यापक व महिला शिक्षा मित्र मौजूद मिली दो शिक्षक नदारद थे ।पूछने पर बताया गया कि अभी आ रहे होंगे ।पत्रकारों ने टूटी बाउंड्रीवाल की फोटो खींचकर वहां से प्राथमिक विद्यालय सड़री पहुंचे जहां विद्यालय में व्याप्त गंदगी की फोटो खींच ही रहे थे ।अध्यापक संतोष कुमार झा अपना विद्यालय छोड़कर अपने साथ कई अध्यापकों को लेकर सड़री विद्यालय पहुंचकर पत्रकारों से कहने लगे कि 15 अगस्त को विद्यालय में किया गया ध्वजारोहण के बाद हुई बारिश में झंडा का कलर उतर जाने व ध्वजारोहण के एक घंटे बाद उतारे गए झंडा की खबर इन्ही पत्रकारों ने चलाया था । इतना कहकर पत्रकारों की आई डी व मोबाइल विज्ञापन का 12 हजार रुपए छीन लिया । पत्रकारों को विद्यालय के एक कक्ष में ले जाकर बंधक बनाकर लाठी डंडो से पीटने लगे पत्रकार शिव शंकर किसी तरह जान बचाकर विद्यालय से बाहर आकर शोर मचाया इतने में अध्यापक संतोष कुमार झा ने बंधक बने पत्रकार आलम पर धारदार हथियार से सर पर वार किया सर पर हाथ लगा लेने से हाथ फट गया जिससे पत्रकार लहू लुहान हो गया। अध्यापकों की सरेआम गुंडई देख लाठी डंडा लेकर ग्रामीण उठ खड़े हुए जिसे देखकर अध्यापक मोबाइल व आई डी फेंककर बाउंड्रीवाल फांदकर भागने लगे । घटना की सूचना ग्रामीणों ने रुदौली पुलिस को दी । मौके पर पहुंची पुलिस ने गुंडई करने वाले अध्यापकों की तलाश करती रही सभी अध्यापक भागने में सफल हो गए । कोतवाली प्रांगण में दर्जनों पत्रकार व अध्यापक एकत्र हो गए । प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यापकों द्वारा गंभीर रुप से घायल पत्रकारों पर सुलह करने का काफी दबाव बनाया गया । लेकिन अध्यापकों की सरेआम गुंडई देख पत्रकार नहीं माने । घायल पत्रकार की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने संतोष कुमार झा सहित अज्ञात अध्यापकों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है । वहीं दूसरी ओर बाद में पेशबंदी के लिए प्राथमिक शिक्षक संघ द्वारा एक महिला अध्यापक व आरोपी की तहरीर दिए जाने की बात सामने आई है ।

X

सर्कल अयोध्या
अपने शहर का अपना ऐप

बीकापुर, मिल्कीपुर, रूदौली, सोहावल… की हर खबर, वीडियो और भी बहुत कुछ! 👉

अयोध्या में 11000 से भी ज्यादा लोग हैं इस ऐप पर, आप भी इस सर्कल का हिस्सा बनें 👉

सर्कल ऐप
इंस्टॉल करें